एसिडिटी

एसिडिटी से तुरंत छुटकारा दिलाएंगे ये 15 फ्री के नुस्‍खे

  • अनियमित जीवनशैली है एसि‍डिटी की मुख्‍य वजह।
  • अपने आहार-व्‍यवहार पर नियंत्रण कर दूर कर सकते हैं एसिडिटी।
  • मूली का सेवन करने से होता है एसिडिटी में लाभ। 

पेट में बनने वाली एसिडिटी को भले ही आप हल्‍के में लें, लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि यह एसिड इतना तेज होता है कि एक रेजर ब्‍लेड को गला देता है। तभी तो कुछ वैद्य इसे बेहद खतरनाक मानते हैं। उनका कहना है कि यदि यह एसिड इतना तेज होता है, तो सोचिए कि शरीर के भीतर यह कितना नुकसान पहुंचाता होगा। आजकल की भागदौड भरी और अनियमित जीवनशैली के कारण पेट की समस्या आम हो चली है।

आमतौर पर तली-भुनी और मसालेदार खाने का सेवन करने के कारण एसिडिटी की समस्या होती है। खाने का एक समय निर्धारित भी नहीं होता है, जो एसिडिटी का कारण बनता है। पेट में जब सामान्य से अधिक मात्रा में एसिड निकलता है तो उसे एसिडिटी कहते हैं। आइए हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपाय बताते हैं जिनको अपनाकर आप एसिडिटी से छुटकारा पा सकते हैं। 

एसिडिटी को दूर करने के घरेलू नुस्खे

  • एसिडिटी होने पर मुलेठी का चूर्ण या काढ़ा बनाकर उसका सेवन करना चाहिए। इससे एसिडिटी में फायदा होता है।
  • नीम की छाल का चूर्ण या रात में  भिगोकर रखी छाल का पानी छानकर पीना चाहिए। ऐसा करने से अम्लापित्त या एसिडिटी ठीक हो जाता है।
  • एसिडिटी होने पर त्रिफला चूर्ण का प्रयोग करने से फायदा होता है। त्रिफला को दूध के साथ पीने से एसिडिटी समाप्त होती है।
  • दूध में मुनक्का डालकर उबालना चाहिए। उसके बाद दूध को ठंडा करके पीने से फायदा होता है और एसिडिटी ठीक होती है।
  • गिलास गुनगुने पानी में थोड़ी सी पिसी काली मिर्च तथा आधा नींबू निचोड़कर नियमित रूप से सुबह पीने से लाभ होता है।
  • सौंफ, आंवला व गुलाब के फूलों का चूर्ण बनाकर उसे सुबह-शाम आधा-आधा चम्मच लेने से एसिडिटी में लाभ होता है।
  • एसिडिटी होने पर सलाद के रूप में मूली खाना चाहिए। मूली काटकर उस पर काला नमक तथा काली मिर्च छिडककर खाने से फायदा होता है।
  • जायफल तथा सोंठ को मिलाकर चूर्ण बना लीजिए। इस चूर्ण को एक-एक चुटकी लेने से एसिडिटी समाप्त होती है।
  • एसिडिटी होने पर कच्ची सौंफ चबानी चाहिए। सौंफ चबाने से एसिडिटी समाप्त हो जाती है।
  • अदरक और परवल को मिलाकर काढा बना लीजिए। इस काढे को सुबह-शाम पीने से एसिडिटी की समस्या समाप्त होती है।
  • सुबह-सुबह खाली पेट गुनगुना पानी पीने से एसिडिटी में फायदा होता है।
  • नारियल का पानी पीने से एसिडिटी की समस्या से छुटकारा मिलता है।
  • लौंग एसिडिटी के लिए बहुत फायदेमंद है। एसिडिटी होने पर लौंग चूसना चाहिए।
  • गुड़, केला, बादाम और नींबू खाने से एसिडिटी जल्दी ठीक हो जाती है।
  • पानी में पुदीने की कुछ पत्तियां डालकर उबाल लीजिए। हर रोज खाने के बाद इन इस पानी का सेवन कीजिए। एसिडिटी में फायदा होगा।

 एसिडिटी की समस्या खान-पान के कारण ज्यादा होती है। इसलिए ज्यादा गरिष्ठ भोजन करने से परहेज करना चाहिए। एसिडिटी के समय रात को सोने से तीन घंटे पहले डिनर कर लेना चाहिए, जिससे खाना अच्छे से पचे। इन नुस्खों को अपनाने के बाद भी एसिडिटी अगर ठीक न हो रही हो तो चिकित्सक से संपर्क अवश्य कीजिए।

 

© 2019 aarogyapeeth. All Rights Reserved |